अस्पतालों में ऑनलाइन होगा ओपीडी रजिस्ट्रेशन

 उत्तराखंड के सरकारी अस्पतालों में मरीजों को ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की सुविधा मिलेगी। इससे मरीजों को लाइन में लगने के झंझट से मुक्ति मिल जाएगी। इसके साथ ही राज्य को 2025 तक ड्रग फ्री राज्य बनाया जाएगा। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इसके निर्देश दिए हैं।

मुख्यमंत्री धामी ने गुरुवार को सचिवालय में स्वास्थ्य एवं चिकित्सा शिक्षा विभाग की बैठक लेते हुए अस्पतालों में रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था सुधारने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मरीजों को लंबी लाइनों में खड़ा न होना पड़े इसके लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के साथ ही टोकन की व्यवस्था बनाई जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड को 2025 तक ड्रग्स फ्री राज्य बनाया जाएगा। उन्होंने इसके लिए सभी विभागों को प्लान तैयार करने और प्रत्येक माह स्वास्थ्य मंत्री की अध्यक्षता में बैठक आयोजित करने के निर्देश दिए।

टेलीमेडिसिन सेवा को बढ़ावा दें 

मुख्यमंत्री ने इस दौरान राज्य में टेलीमेडिसिन सेवा को बढ़ावा देने के साथ ही हेल्पलाइन नम्बर 104 का व्यापक प्रचार करने के निर्देश दिए। उन्होंने टीबी उन्मूलन अभियान को सफल बनाने, सभी अस्पतालों में स्वच्छता की व्यवस्था करने, मरीजों के भोजन की क्वालिटी सुधारने, वायरल, डेंगू एवं मलेरिया को नियंत्रण में रखने के साथ ही त्योहारी सीजन को देखते हुए विशेष सतर्कता बरतने के भी निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री धामी ने आयुष्मान कार्ड, गोल्डन कार्ड के साथ ही श्रम विभाग की ओर से मरीजों को दी जा रही स्वास्थ्य की योजनाओं को एक प्लेटफार्म पर लाने और इनकी मॉनीटरिंग करने के निर्देश दिए।

ब्लॉक, तहसील स्तर पर बढ़ाई जाए स्वास्थ्य सुविधा 

बैठक में मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि राज्य में ब्लॉक और तहसील स्थल पर स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने केन्द्र एवं राज्य सरकार की ओर से चलाई जा रही स्वास्थ्य योजनाओं की जानकारी आम लोगों तक पहुंचाने के निर्देश दिए। उन्होंने पर्वतीय क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधाओं के विकास पर फोकस करने और दूरस्थ क्षेत्रों में डॉक्टर भेजने के लिए विशेष प्रयास करने को कहा। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि ऐसी व्यवस्था बनाई जाए कि अस्पताल में जन्म के समय ही बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र मिल जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *