देवभूमि में आकर पहचान छुपाने वालों की अब खैर नहीं

15 दिन का खास सत्यापन अभियान, पहचान छिपाने वालों पर होगी कार्रवाई
Dehradun: उत्तराखंड में पिछले कुछ समय में हुए अपराधों में बाहरी लोगों की संलिप्तता को देखते हुए पुलिस महानिदेशक द्वारा ऐसे सभी लोगों का सत्यापन अभियान चलाने के निर्देश दिए गए हैं जो बाहर से आकर उत्तराखंड के विभिन्न जनपदों में बसे हुए हैं।
पूर्व में ऐसी कई घटनाएं प्रकाश में आ चुकी है जिन में बाहर से आकर बसे लोगों ने उत्तराखंड में आपराधिक वारदातों को अंजाम दिया या फिर दूसरे राज्यों से ही अपराध करने के बाद उत्तराखंड को अपनी शरण स्थली बनाया और छिपे रहे। ऐसे लोगों के खिलाफ राज्य पुलिस द्वारा खास अभियान चलाया जा रहा है जिसकी मॉनिटरिंग खुद DGP करेंगे। इस संबंध में जानकारी देते हुए अशोक कुमार, पुलिस महानिदेशक, उत्तराखण्ड ने बताया कि आगामी विधानसभा चुनावों के दृष्टिगत संदिग्ध व्यक्तियों की चेकिंग के संबंध में गैर जनपद एवं गैर प्रांत से आने वाले, अस्थाई रूप से निवास कर रहे और रेड़ी/ठेली लगाने वालों का भौतिक सत्यापन कराए जाने हेतु 29 दिसंबर 2021 से 15 दिवस का एक विशेष अभियान चलाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *