श्रमिकों से प्रधानमंत्री ने की बात

 

देहरादून। उत्तरकाशी टनल हादसे में फंसे 41 मजदूरों को 17वें दिन सही सलामत निकाल लिया गया। इस खुशी के पल में पूरे देश ने राहत की सांस ली। मंगलवार को हुए सफल रेस्क्यू के बाद आज बुधवार को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इन श्रमिकों से बात की। 17 दिन बाद उत्तराखंड की सिल्कयारा सुरंग से सफलतापूर्वक बचाए गए श्रमिकों से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने टेलीफोन से बात की। पीएम मोदी ने श्रमिकों से बात करते हुए कहा कि मेरे लिए ये बड़ी खुशी की बात है। ये केदारनाथ बाबा की कृपा रही कि आप सब सकुशल बाहर आए हैं। 17 दिन का समय कम नहीं होता। ये काबिले तारीफ है कि आपने कैसे टनल के अंदर एक दूसरे का हौसला बनाए रखा। श्रमिकों ने PM मोदी से भी अपनी बात रखी। श्रमिकों ने कहा कि सर हम 18 दिन तक टनल में फंसे थे, लेकिन हमें एक बार भी कमजोरी या दिक्कत महसूस नहीं होती थी। ऐसा इसलिए हो पाया कि क्योंकि हम 41 लोग एक साथ थे। सब अलग-अलग राज्य से थे, लेकिन हम सब एक साथ थे। श्रमिकों ने कहा कि हम टनल के अंदर ही योगा करते थे और मॉर्निंग वॉक भी करते थे। श्रमिकों ने कहा कि हम उत्तराखंड सरकार का शुक्रिया अदा करते हैं।
सीएम धामी का शुक्रिया
श्रमिकों ने कहा कि सीएम धामी ने हमें गले लगाया और हमें ठाठस बंधाया। हम सरकार का शुक्रिया अदा करते हैं। हम 41 लोगों को सही सलामत निकालने के लिए सरकार का शुक्रिया।